मंगलवार का दिन विभिन्न विश्वविद्यालयों में अध्ययन कर रहे हैं उन छात्रों के लिए खुशखबरी का रहा जो एक साथ दो डिग्री कोर्स करना चाहते थे परंतु उन्हें इस मौके की तलाश में काफी इंतजार करना पड़ा इसके साथ ही साथ यूजीसी चेयरमैन एम जगदीश कुमार ने यह साफ तौर पर कह दिया है की विभिन्न विश्वविद्यालयों में पढ़ रहे हैं वह छात्र जो एक साथ फिजिकल तौर पर डिग्री कोर्स करना चाहते हैं वह अब कर सकते हैं इसके साथ ही साथ यूजीसी अब नए दिशा निर्देशों के साथ वापसी कर रहा है जिसमें एक छात्र भौतिकी मोड पर विश्वविद्यालय अथवा विभिन्न विश्वविद्यालयों से 2 डिग्रियां हासिल कर सकता है तथा उसकी कोर्स की पढ़ाई कर सकता है तो यह निम्नलिखित हम इसके बारे में कुछ संक्षेप में जानकारी साझा करते हैं।

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग(UGC) का एलान

यूजीसी अथवा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के द्वारा एक साहसिक फैसला लिया गया जिसमें यूजीसी के छात्रों को 2 पूर्णकालिक डिग्री प्रोग्राम करने की अनुमति मिलेगी वह भी फिजिकल मोड में इसकी घोषणा यूजीसी के चेयरमैन जगदीश कुमार के द्वारा मंगलवार को की गई है। इसके साथ ही साथ UGC के द्वारा इससे संबंधित विशेष जानकारी तथा दिशा निर्देश जल्द ही जारी होगा तो वही एक संवाददाता सम्मेलन में यूजीसी चेयरमैन के द्वारा कहा गया कि जैसा की ‘‘नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में घोषित किया गया है और छात्रों को कई कौशल हासिल करने की अनुमति देने के लिए विश्वविद्यालय अनुदान आयोग एक बार फिर नए दिशानिर्देशों के साथ वापस आ रहा है जिससे हर उम्मीदवार को जो भौतिक की मौत पर 2 डिग्री प्रोग्राम करना चाहते थे उन्हें अनुमति मिल सके’’।

किस तरह कर सकेंगे दो डिग्री प्रोग्राम

अब एक अभ्यर्थी भौतिकी मोड में 2 पूर्णकालिक शैक्षणिक कार्यक्रम को अपने स्तर से आगे बढ़ा सकता है उसके लिए उसे यह देखता होगा कि कक्षा का कार्यक्रम यदि दूसरी कक्षा के साथ नहीं मिल रहा है तो वह किस विश्वविद्यालय में किसी दूसरे डिग्री कोर्स के लिए आवेदन कर सकता है वह भी फिजिकल मोड में यदि एक विश्वविद्यालय में फिजिकल मोड में अध्ययन कर रहा है तो वह किसी दूसरे विद्यालय में या फिर उसी विद्यालय में एक अन्य कोर्स ऑनलाइन हो ओपनिंग मोड हो आसानी से कर सकता है उसके साथ ही साथ यूजीसी नेट के तारीख को की भी घोषणा कर दी गई है जो कि दिसंबर 21 और जून 2022 के के लिए तथा जून 2022 के पहले अथवा दूसरे सप्ताह में आयोजित किया जाएगा।

कौन है यूजीसी चेयरमैन M.Jagdish Kumar

इस साल के शुरुआत में फरवरी में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यूजीसी का चेयरमैन इन जगदीश कुमार को बनाया गया। साल 2016 से 2022 तक यह जेएनयू के कुलपति के पद पर स्थापित थे। इस दौरान वह जेएनयू के कुलपति रहते हुए कई सारे मामलों में भी आलोचना झेलनी पड़ी थी उस दौरान के छात्र संघ ने इनका काफी विरोध किया था और इनके इस्तीफे की भी मांग की थी कई संगठन तो यह भी कहते हैं कि या आर एस एस के सिद्धांत को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं परंतु जबसे उन्होंने यूजीसी चेयरमैन का पद संभाला है तब से लगातार वह कई तरह की नई-नई घोषणाएं कर रहे हैं इससे पहले उन्होंने कॉमन यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट की भी घोषणा की थी जिसके जरिए केंद्रीय विश्वविद्यालय में स्नातक पाठ्यक्रमों के छात्रों के दाखिले के लिए एक प्रकार का एंट्रेंस टेस्ट करा कर उस में प्राप्त अंकों के आधार पर एडमिशन की प्रक्रिया पूरी की जाएगी।

JANKARI CLUB

YOUR KNOWLEDGE IS OUR DUTY

4 thoughts on “यूनिवर्सिटी से एक साथ दो डिग्री कोर्स कर सकेंगे छात्र :UGC चेयरमैन का बड़ा ऐलान”

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: