जिस तरह से गत वर्षो में कोरोना महामारी के दौरान लोगों का बेघर होना तथा भुखमरी का शिकार होना अधिकतर तौर पर देखा गया उसके लिए भारत सरकार के द्वारा फ्री राशन देने की व्यवस्था की गई थी जिससे इस भूखमरी को कम किया जाए और उन गरीब एवं निर्धन परिवार के लोगों को सही से भोजन व्यवस्था कराई जा सके क्योंकि उस दरमियान बहुत से ऐसे घर थे जो बेरोजगारी के कारण काफी निम्न स्तर पर पहुंच चुके थे ऐसे में भारत सरकार की इस योजना में लोगों को लाभान्वित किया और इसका लाभ भी 80 करोड़ लोगों को सीधे तौर पर लिया गया आज उसी श्री राशन के नियमों में कुछ बदलाव भी होने जा रहे हैं जिसे हम निम्नलिखित आपको बताएंगे।

फ्री राशन व्यवस्था और उसमे बदलाव

हाल ही में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा गरीब एवं निर्धन परिवार को देने जाने वाला राशन को बढ़ा दिया गया है इसके लिए यह भी सुनिश्चित किया जाएगा की राशन की दुकान से राशन लेने वाला उस योग है या नहीं इसके साथ ही साथ उनमें कुछ बदलाव भी किए जाएंगे क्योंकि वर्तमान समय में यह देखने को मिला है कि बहुत से ऐसे लोग हैं जो फ्री राशन लेने के पात्र हैं परंतु वह राशन लेते रहे हैं जिसके बाद सरकार ने अब उन्हें राशन ना देने की कवायद शुरू कर दी है ऐसे लोगों को चिन्हित भी किया जाएगा और उसके साथ ही साथ उनके राशन कार्ड को भी निरस्त करने का कार्य जारी किया जाएगा इसके साथ ही साथ प्राथमिक जांच में यह भी सामने आया है कि लगभग 500000 लोगों में से एक से 2% लोग ऐसे पाए गए हैं जो पिछले 6 महीने से राशन नहीं ले रहे थे परंतु अपना राशन कार्ड बनवाए हुए थे।

किन नियमों को जोड़ा गया है

जैसा कि आपको बताते चलें कि कोरोना महामारी के दौरान सरकार ने गरीब एवं निर्धन परिवार के लोगों को फ्री में राशन देने की व्यवस्था की थी जिसके लिए उन्हें उसका पात्र होना जरूरी माना गया था परंतु वर्तमान समय में ऐसे लोगों ने भी राशन कार्ड बनवा रखा है जो फ्री राशन लेने के पात्र हैं इसलिए उनके राशन कार्ड को निरस्त करने का निर्देश दिया गया है तथा उसके साथ ही साथ उनकी जगह नए आवेदकों का राशन कार्ड जारी करने का भी आदेश दिया गया है जो उसके पात्र माने जाएंगे सार्वजनिक वितरण प्रणाली की ओर से यह भी सुनिश्चित किया गया है कि उन लोगों का राशन कार्ड निरस्त करने के पीछे यह कारण है कि ज्यादा से ज्यादा जरूरतमंद लोगों को फ्री में राशन का लाभ पहुंचाया जा सके इसके लिए सरकार जमीनी तौर पर प्रयास जारी रखे हुए हैं।

6 महीने से राशन ना लेने वालो पर कार्यवाही

इसके साथ ही साथ बताते चलें कि जिन लोगों ने फर्जी तौर पर राशन कार्ड मैया करा लिया था तथा 6 महीने तथा उससे अधिक महीने से राशन नहीं ले रहे थे उन्हें ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाएगा तथा उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी ऐसा सुनिश्चित करते हुए सौर जन वितरण प्रणाली की ओर से यह बताया गया है अब नए राशन कार्ड के आवेदन को शासन की तरफ से मंजूरी मिलने पर ही बनाया जाएगा तथा उसके साथ उन लोगों को राशन कार्ड को निरस्त किया जाएगा जो 6 महीने से राशन नहीं लिए हैं यह सभी कार्यवाही जारी है जो कि जून तक व्यवस्थित तौर पर पूरी कर ली जाएगी।

JANKARI CLUB

YOUR KNOWLEDGE IS OUR DUTY

Leave a Reply

Your email address will not be published.